26 अगस्त 2019, सोमवार | समय 06:10:37 Hrs
Republic Hindi Logo

पूजा कमेटियों को आयकर विभाग नोटिस के विरोध में टीएमसी का धरना

By Republichindi desk | Publish Date: 8/13/2019 4:37:25 PM
पूजा कमेटियों को आयकर विभाग नोटिस के विरोध में टीएमसी का धरना

रिपब्लिक डेस्कः पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा कमेटियों को आयकर विभाग की ओर से नोटिस भेजे जाने के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस ने मंगलवार को धरना दिया है. पार्टी की महिला इकाई बंग जननी की ओर से सुबोध मलिक स्क्वायर में हिंद सिनेमा हॉल के ठीक सामने विरोध प्रदर्शन की शुरुआत मंगलवार सुबह से की गई है. दरअसल दो दिन पहले ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया था. उन्होंने कहा था कि पूजा सभी का उत्सव होता है. इस पर आयकर की निगरानी नहीं होनी चाहिए. केंद्र सरकार दुर्गा पूजा आयोजकों को आयकर का नोटिस भेजकर अतिरिक्त बोझ बढ़ा रही है. इसके खिलाफ पार्टी की ओर से धरना दिया जाएगा. उन्होंने विभिन्न पूजा कमेटियों के सदस्यों और समाज के विभिन्न तबके के लोगों को इसमें शामिल होने का आह्वान किया था. जिसके बाद मंगलवार सुबह 10 बजे इस प्रदर्शन में लोग शामिल हुए हैं.

इस दौरान विरोध प्रदर्शन में संबोधन करते हुए सांसद डॉ. काकोली घोष ने कहा कि केंद्र सरकार अब इतना गिर गई है कि मां दुर्गा की पूजा पर भी टैक्स लगा रही है.लेकिन यही इनकी असली नीति है. ये चुनाव के समय हिंदुत्व और हिंदुओं की भलाई की बातें करते हैं लेकिन हकीकत इसके ठीक उलट है. तृणमूल के अन्य नेताओं ने भी केंद्र सरकार पर हमला बोला है.

हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने तृणमूल कांग्रेस के इस प्रदर्शन को पाखंड करार दिया है. एक दिन पहले ही प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा है कि तृणमूल कांग्रेस के नेता विभिन्न पूजा कमेटियों में ऊंचे ओहदे पर हैं और चिटफंड तथा राज्य भर में सरकारी परियोजनाओं के एवज में ली गई रिश्वत के कालेधन को दुर्गा पूजा कमेटियों के जरिए सफेद कर रहे हैं. पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा था कि ममता बनर्जी ने अल्पसंख्यकों के त्योहार के लिए दुर्गा पूजा के आयोजन पर रोक लगाई थी लेकिन आज उसी दुर्गा पूजा के बहाने धरना दे रही हैं. यह पाखंड है. ममता को हिंदू हित या पूजा से कोई लेना देना नहीं है. उन्होंने कहा था कि दुर्गा पूजा कमेटियों में तृणमूल के नेता अपने काले धन को लगाकर उसे कानूनन वैध बनाने में जुटे हैं. ऐसे में आयकर विभाग के नोटिस से तृणमूल को डर है कि उनके काले खेल का खुलासा हो जाएगा इसलिए विरोध कर रहे हैं. हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा के इन आरोपों को बेबुनियाद बताया था.

बता दें कि 8 घंटे तक चलने वाले प्रदर्शन में राज्य की महिला और बाल विकास मंत्री शशि पांजा, स्वास्थ्य राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य, सांसद काकोली घोष दस्तीदार समेत बड़ी संख्या में विभिन्न पूजा कमेटियों की आयोजक मंडली में शामिल महिलाएं शामिल हुईं. साथ ही इस घरने में कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम भी मौजूद थे.

 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus