26 अगस्त 2019, सोमवार | समय 06:58:10 Hrs
Republic Hindi Logo

केंद्रीय उपभोक्ता एवं खाद्य मंत्री का बड़ा बयान, सर्विस चार्ज की आड़ में उपभोक्ता से और लूट नहीं

By Republichindi desk | Publish Date: 8/13/2019 6:31:46 PM
केंद्रीय उपभोक्ता एवं खाद्य मंत्री का बड़ा बयान, सर्विस चार्ज की आड़ में उपभोक्ता से और लूट नहीं

न्यूज डेस्क : सर्विस चार्ज की आड़ में उपभोक्ता को लूटने के मामले में सरकार ने कड़ा रुख अखतियार किया है. उपभोक्ता मंत्री रामविलास पासवान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस संबंध में मीडिया को पूरी जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि उपभोक्ता बिल को लेकर राष्ट्रपति की अनुशंसा भी हो गई है और ये अब एक्ट का रूप धारण कर चुका है. उपभोक्ता संरक्षण बिल (कंज्यूमर प्रोटेक्शन बिल 2019) में CCPA का गठन किया गया है. इसकी मदद से सभी कंज्यूमर कोर्ट और फोरम का नाम बदल कर कंज्यूमर कमीशन हो जाएगा. पहले कोर्ट या फोरम उसी केस को देखेगा जो उसके पास जाकर शिकायत करेगा. इसके अलावा CCPA के पास सो-मोटो जारी करने का भी अधिकार होगा.

बिना खरीदे भी कर सकते हैं सामान की शिकायत

पहले CCPA का प्रावधान नहीं था. CCPA उपभोक्ता को यह ताकत देता है कि अगर आपने समान नहीं खरीदा है या खरीदने से पहले भी आप शिकायत कर सकते हैं. मसलन आपको पता है कि फलां कार में कुछ गड़बड़ी है तो आप खरीदने से पहले भी उसकी शिकायत कर सकते हैं. इन्वेस्टिगेशन विंग भी होगा जिसमें CCPA के भी अधिकारी होंगे, साथ ही सभी सेक्टर के प्रतिनिधि होंगे.

मीडिया को लेकर भी सख्त प्रावधान

इसके अलावा इस कानून में मीडिया (प्रिंट/ इलेक्ट्रॉनिक) को लेकर भी कई प्रावधान किए गए हैं. मीडिया से कहा गया है कि जितना लिखित दिया गया है सिर्फ उतना ही प्रचारित करना है या दिखाना है. सेलिब्रिटी जो ब्रांड का प्रचार करते हैं, उनके लिए कहा गया है कि जितना लिखा दिया गया है सिर्फ उतना ही बोले. इसके अलग कुछ नहीं करना है. बता दें, सेलिब्रिटी के लिए जेल का प्रावधान नहीं है. मैन्युफैक्चरिंग डिफेक्ट पर आजीवन कारावास का भी प्रावधान है.

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus