24 अगस्त 2019, शनिवार | समय 01:51:33 Hrs
Republic Hindi Logo

टीएमसी के गुंडे मुझे जिंदा नहीं छोड़ते, CRPF ने बचा लिया: शाह

By लोकनाथ तिवारी | Publish Date: 5/15/2019 11:59:38 AM
टीएमसी के गुंडे मुझे जिंदा नहीं छोड़ते, CRPF ने बचा लिया: शाह

रिपब्लिक डेस्क: कोलकाता में टीएमसी के गुंडे जान लेने पर उतारू थे. CRPF के जवान नहीं होते तो मैं जिंदा नहीं बचता. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में प्रेसमीट कर टीएमसी पर ये आरोप लगाया. अमित शाह ने कहा कि बंगाल में जो घटनाएं हुई हैं, उसी की हकीकत बताने आया हूं. देश में कहीं पर भी हिंसा नहीं हो रही है, लेकिन सिर्फ बंगाल में हो रही हैं. शाह ने कहा कि BJP तो पूरे देश में चुनाव लड़ रही है, लेकिन हिंसा सिर्फ बंगाल में हो रही है. अमित शाह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने ही उनकी बाइक और गाड़ियां जलाईं, अगर कल CRPF नहीं होती तो उनका जिंदा निकलना मुश्किल था.

गौरतलब है कि मंगलवार को कोलकाता में हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में जमकर बवाल हुआ, हिंसा हुई और आगजनी भी हुई. इसी मुद्दे पर बीजेपी आक्रामक है. दिल्ली में अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जमकर ममता बनर्जी पर हमला बोला.

शाह भगवान नहीं है

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने एक बार फिर बीजेपी पर हमला बोला. ममता ने कहा कि क्या अमित शाह भगवान हैं, जो उनके खिलाफ प्रदर्शन नहीं किया जा सकता. मंगलवार को कोलकाता में शाह के रोड शो के दौरान हंगामा हो गया था. शाह जिस वाहन पर सवार थे, उस पर डंडे फेंके गए. रोड शो पर कुछ लोगों ने पत्थर फेंके और आगजनी भी की गई. पुलिस ने हालात काबू में करने के लिए लाठीचार्ज किया. इसके बाद शाह ने रोड शो खत्म कर दिया.

ममता ने कहा कि बीजेपी असंस्कारी हैं, इसलिए उन्होंने विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी. वे बाहरी हैं. क्या शाह कलकत्ता विश्वविद्यालय की विरासत के बारे में जानते हैं? क्या वे जानते हैं कि कौन सी महान हस्तियों ने यहां पढ़ाई की? इस तरह के हमले के लिए उन्हें शर्म आनी चाहिए.’’ चुनाव आयोग बुधवार को पश्चिम बंगाल के पर्यवेक्षकों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करेगा. शाह आज बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.

चुनाव आयोग से मिलेगी तृणमूल

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि कोलकाता में शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े-बड़े कटआउट लगाए गए हैं. बीजेपी यहां काफी पैसा खर्च कर रही है. चुनाव आयोग उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं करता? इस बीच बंगाल में भड़की हिंसा को लेकर तृणमूल नेताओं का प्रतिनिधिमंडल बुधवार को चुनाव आयोग से मिलेगा.

ममता को प्रचार से रोकें आयोग

बीजेपी ने चुनाव आयोग से अपील की है कि ममता को पश्चिम बंगाल में प्रचार से रोकना चाहिए. बीजेपी का आरोप है कि राज्य में संवैधानिक तंत्र खत्म हो गया है. शाह के रोड शो में हिंसा होने के बाद मंगलवार को केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और मुख्तार अब्बास नकवी की अगुआई में बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की थी. बीजेपी ने आयोग से बंगाल के मामले में तुरंत दखल देने की अपील की, ताकि वहां निष्पक्ष चुनाव कराए जा सकें.

मोदी को बताया हिटलर

ममता ने एक रैली में कहा कि मोदी से सावधान रहें. वे हिटलर से भी ज्यादा खतरनाक हैं. अगर वे दोबारा सत्ता में आ गए तो देश को बेच देंगे. बीजेपी बंगाल के वोटरों को लुभाने के लिए यहां हवाला के जरिए पैसा ला रही है. उन्होंने राज्य की मशीनरी को हाईजैक कर लिया है. कोलकाता में ही वोटरों को करोड़ों रुपए बांटे गए. हर वोटर को वे 5 हजार रुपए दे रहे हैं. ये चुनाव है या मजाक है.

बीजेपी की हिंसक योजना

ममता ने हिंसा का आरोप बीजेपी पर लगाया. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पहले से ही हिंसा की योजना बनाई थी. उन्होंने बाहर से गुंडे बुलवाकर कोलकाता यूनिवर्सिटी कैम्पस में हमला किया. पुलिस के अनुसार कलकत्ता यूनिवर्सिटी के सामने तृणमूल छात्र परिषद और लेफ्ट विंग के कार्यकर्ताओं ने शाह के खिलाफ नारे लगाए और काले झंडे दिखाए. इसके बाद बीजेपी और तृणमूल कार्यकर्ताओं में झड़प हो गई. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने भी हॉस्टल के गेट बंद कर दिए और पत्थरबाजी की. इस दौरान कुछ लोगों ने विद्यासागर कॉलेज में लगी इश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ दी. कई बाइकों में आग लदा दी. कॉलेज के कार्यालय में भी तोड़फोड़ की गयी.

 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus