23 जुलाई 2019, मंगलवार | समय 13:54:36 Hrs
Republic Hindi Logo

भारत-पाक सीमा पर 20 साल बाद मिली करगिल युद्ध में बिछाई गई बारूदी सुरंग

By Republichindi desk | Publish Date: 6/1/2019 5:33:34 PM
भारत-पाक सीमा पर 20 साल बाद मिली करगिल युद्ध में बिछाई गई बारूदी सुरंग

न्यूज डेस्कः भारत-पाकिस्तान सीमा पर 20 साल पुरानी युद्ध के दौरान बिछाई गई बारूदी सुरंग मिली है. आपको बता दें कि ये सुरंग राजस्थान के श्रीगंगानगर में स्थित है. फिलहाल पुलिस ने मौक पर पहुंचकर सुरंग का मुआयना कर लिया है और सुरंग को ढक कर सुरक्षित कर दिया है. सेना को ये आदेश दिया गया है कि सुरंग को जल्द ही निष्क्रिय किया जाए.

सेना सुरंग को निष्क्रिय करेगी

पुलिस ने सेना को इस बारे में जानकारी दी, तो सैन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. सेना जल्द ही इस बारूदी सुरंग को निष्क्रिय कर देगी. जानकारी के मुताबिक श्रीगंगानगर जिले के नई मंडी घड़साना थाना क्षेत्र में भारत-पाक सीमा पर मौजूद 19 जीडी रोही में एंटीपर्सन माइन्स (बारूदी सुरंग) मिली है.

पुलिस के मुताबिक चक निवासी रामकुमार कुम्हार के खेत में रेत में दबी एंटी पर्सन माइन्स मिलने की सूचना मिली. बीट प्रभारी कांस्टेबल विक्रांत जाट को मौके पर भेजा गया. माइन्स से किसी प्रकार का नुकसान नहीं हो, इसके लिए पुलिस ने जन सहयोग से उपाय किए हैं. कांस्टेबल विक्रांत ने बताया कि रेत के बोरों के अलावा झाडिय़ां आदि लगा कर माइन्स को सुरक्षित किया है. पुलिस अधीक्षक व जिला कलक्टर के माध्यम से सेना को सूचित किया गया है. सेना अब इस 20 साल पुरानी एन्टीपर्सन माइन्स (बारूदी सुरंग) को निष्क्रिय करेगी.

करगिल युद्ध के दौरान बिछाई गई थी सुरंग

बताया जा रहा है कि ये बारूदी सुरंग बीस साल पहले करगिल युद्ध के दौरान बिछाई गई थी. घड़साना थाना पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेकर माइन्स को रेत के बोरे लगाकर सुरक्षित कर दिया है.  पुलिस के मुताबिक चक निवासी रामकुमार कुम्हार के खेत में रेत में दबी एंटी पर्सन माइन्स मिलने की सूचना मिली.  बीट प्रभारी कांस्टेबल विक्रांत जाट को मौके पर भेजा गया. पुलिस कांस्टेबल विक्रांत ने बताया कि रेत के बोरों के अलावा झाडियां आदि लगा कर सुरंग को सुरक्षित किया है.

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus