22 अप्रैल 2019, सोमवार | समय 05:29:32 Hrs
Republic Hindi Logo

वाराणसी में मोदी को चुनौती देंगी प्रियंका गांधी

By Republichindi desk | Publish Date: 2/9/2019 6:31:12 PM
वाराणसी में मोदी को चुनौती देंगी प्रियंका गांधी

रिपब्लिक डेस्क: पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद से ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने के कयास लगने शुरू हो गये हैं. राजनीतिक जानकारों के अनुसार प्रियंका जुझारू व्यक्तित्व की मालकिन हैं. वह फ्रंट फुट पर आकर नेतृत्व देना चाहेंगी. ऐसे में वाराणसी लोकसभा चुनाव में उनको पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मजबूत दावेदार के रूप में माना जा रहा है. प्रियंका को लेकर ABP न्यूज़ और C वोटर ने एक सर्वे किया है. इसमें 52 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रियंका गांधी के आने से बीजेपी को नुकसान होगा, जबकि 32 फीसदी लोगों का कहना है कि इससे महागठबंधन को नुकसान होगा. वहीं 8 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रियंका के आने से किसी का नुकसान नहीं होगा.

राष्ट्रीय स्तर पर होगी प्रियंका की भूमिका

राहुल गांधी ने हाल हाल ही में कहा है कि पार्टी की महासचिव होने के नाते प्रियंका गांधी की भूमिका राष्ट्रीय स्तर पर ही है. अभी उन्हें एक जिम्मेदारी मिली है और सफलता मिलने पर दूसरी जिम्मेदारी दी जाएगी. प्रियंका गांधी के कंधों पर फिलहाल यूपी की जिम्मेदारी है, लेकिन कांग्रेस ने जबसे प्रियंका को राजनीति में उतारा है, सिर्फ यूपी में ही नहीं बल्कि पूरे देश के कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश है.

50 फीसदी मानते हैं देश भर में असर

एबीपी न्यूज़ सी-वोटर सर्वे के मुताबिक, 50 फीसदी लोग मानते हैं कि प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस को देशभर में फायदा होगा. जबकि 18 प्रतिशत लोगों का मानते हैं कि सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही फायदा होगा. वहीं, 24 फीसदी लोग ऐसे हैं जो ये मानते हैं कि प्रियंका के आने से कांग्रेस को कोई फायदा नहीं होगा. राजनीतिक जानकार मान रहे हैं प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ेगा और साथ ही वोट प्रतिशत बढ़ाने में मदद मिलेगी.

त्रिकोणीय मुकाबले में बीजेपी को लाभ

प्रियंका को मैदान में उतारने पर त्रिकोणीय मुकाबला होगा जिससे बीजेपी को फायदा होगा. सर्वे के मुताबिक, 44 फीसदी लोग मानते हैं कि प्रियंका गांधी के आने से बीजेपी का फायदा होगा. जबकि 51 फीसदी लोगों का मानना है कि इससे बीजेपी को कोई फायदा नहीं होगा. वहीं, 5 फीसदी लोगों ने इसपर अपनी कोई राय नहीं दी.

राजनीति में आने में देरी

क्या प्रियंका ने सक्रिय राजनीति में आने में देर कर दी. इसके जवाब में 74 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रियंका ने राजनीति में आने में देरी कर दी. वहीं, 21 फीसदी लोगों का मानना है कि नहीं उन्होंने देरी नहीं की है. जबकि पांच फीसदी लोगों को इस बारे में पता नहीं है.

प्रियंका के खिलाफ बयान से बीजेपी को नुकसान

प्रियंका गांधी के खिलाफ बयान देने से बीजेपी को नुकसान होगा. बीजेपी के नेता उन्हें सुंदर और  चॉकलेटी चेहरा बता रहे हैं. सर्वे के मुताबिक, 71 फीसदी लोगों का मानना है कि इससे बीजेपी का नुकसान होगा. जबकि 23 फीसदी लोगों ने कहा कि इससे बीजेपी को कोई नुकसान नहीं होगा. वहीं, 6 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें इस बारे में कुछ नहीं पता.

प्रियंका और इंदिरा गांधी में समानता

एबीपी न्यूज़ और सी वोटर ने जनता से पूछा कि क्या प्रियंका दादी इंदिरा गांधी जैसी दिखती हैं. 44 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रियंका गांधी अपनी दादी इंदिरा गांधी के जैसी दिखती हैं. वहीं 42 फीसदी लोगों ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है. जबकि 13 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें इस बारे में पता नहीं है.

प्रियंका में भविष्य की प्रधानमंत्री के गुण

एबीपी न्यूज़ और सी वोटर ने जनता से पूछा कि क्या क्या प्रियंका में भविष्य की प्रधानमंत्री के गुण दिखते हैं?  56 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रियंका गांधी में प्रधानमंत्री बनने के गुण नज़र आते हैं. वहीं 29 फीसदी लोगों ने कहा कि उनमें पीएम बनने के गुण नहीं हैं. वहीं, 15 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें इस बारे में पता नहीं है.

प्रियंका को कितने वोट

एबीपी न्यूज़ और सी वोटर ने जनता से पूछा कि प्रियंका के आने के बाद आप किसे वोट देंगे? 18 फीसदी लोगों ने कहा कि वह कांग्रेस को वोट देंगे. वहीं 33 फीसदी लोगों ने कहा कि वह महागठबंधन को वोट देंगे. जबकि 38 फीसदी लोगों ने कहा कि वह बीजेपी को अपना वोट देंगे.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus