21 अगस्त 2019, बुधवार | समय 13:19:52 Hrs
Republic Hindi Logo

भले ही केरल में हमारा खाता नहीं खुला, अब 130 करोड़ मेरे अपने

By Republichindi desk | Publish Date: 6/8/2019 12:11:44 PM
भले ही केरल में हमारा खाता नहीं खुला, अब 130 करोड़ मेरे अपने

न्यूज डेस्कः प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी अपनी पहली यात्रा पर केरल पहुंचे हैं. पीएम मोदी केरल के त्रिसूर में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हम सिर्फ चुनावी राजनीति के लिए मैदान में नहीं थे, बल्कि जनसेवा हमारा लक्ष्य है. भले ही यहां हमारा खाता नहीं खुला, लेकिन केरल भी वाराणसी की तरह मेरा अपना है. अब 130 करोड़ मेरे अपने हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि जनता-जर्नादन ईश्वर का रूप है, ये इस चुनाव में देश ने भलि-भांति देखा है. राजनीतिक दल जनता के मिजाज के नहीं पहचान पाए. लेकिन जनता ने बीजेपी और एनडीए के पक्ष में प्रचंड जनादेश दिया. मैं सिर झुकाकर जनता को नमन करता हूं.पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष के नेता कहते हैं कि केरल में बीजेपी का खाता भी नहीं खुला, फिर भी मोदी धन्यवाद के लिए गए. जो हमें जिताते हैं वो भी हमारे हैं, जो चूक गए हैं वो भी हमारे हैं. केरल मेरे लिए उतना ही है जितना बनारस है.

पीएम मोदी ने कहा कि गुरुवायूर की धरती पर आने का मुझे सौभाग्य मिला. ये मेरे लिए नई शक्ति देने वाला अवसर है. पीएम मोदी ने इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं का आभार जताया. साथ ही उन्होंने लोकतंत्र के उत्सव में योगदान के लिए केरल के लोगों का धन्यवाद किया. मंदिर में पूजा करने के बाद पीएम मोदी बीजेपी कार्यकर्ता को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी को मंदिर में कमल के फूलों से तौला गया है. इस दौरान 112 किलो कमल के फूलों का इस्तेमाल किया गया.

 मोदी को फूलों से तौला गया

अपने भाषण से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को केरल के मशहूर गुरुवायूर कृष्ण मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंचे. यहां 'तुला भरण' पूजन परंपरा के तहत उन्हें कमल के फूलों से तौला गया. पूजा-अर्चना के लिए एक मुस्लिम परिवार से 112 किलोग्राम कमल के फूल खरीदे गए थे. बताया जा रहा है कि कमल के इन फूलों को तिरुनवाया के एक मुस्लिम किसान परिवार से खरीदा गया था. त्रिशूर का गुरुवायूर मंदिर केरल के सबसे मशहूर मंदिरों में से एक है,

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus