23 सितम्बर 2019, सोमवार | समय 10:25:42 Hrs
Republic Hindi Logo

तेजस्वी पर बरसे पप्पू यादव, सेक्यूलर ताकतों को किया कमजोर

By Republichindi desk | Publish Date: 4/26/2019 9:47:35 AM
तेजस्वी पर बरसे पप्पू यादव, सेक्यूलर ताकतों को किया कमजोर
पटना: जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय संरक्षक सांसद पप्पू यादव ने राजद और तेजस्वी यादव पर भाजपा से समझौता कर चुनाव में महागठबंधन को कमजोर करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति की पहचान पिता से है, कॉरपोरेट की भूख की वजह से सामाजिक, राजनैतिक और वैचारिक सरोकार से कोई मतलब नहीं है, उसने अपने अहंकार में सेक्यूलर ताकतों को कमजोर किया है.
 
आरएसएस से तेजस्वी की गुप्त सांठगांठ
 
मधेपुरा लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे सांसद पप्पू यादव ने भाजपा के बड़े नेताओं के साथ चुनाव बाद नीतीश कुमार को खत्म करने और समर्थन के लिए समझौता किया. यही वजह कि उन्होंने झारखंड के चतरा में कांग्रेस के खिलाफ अपना कैंडिडेट खड़ा किया. सुपौल में महागठबंधन की उम्मीदवार रंजीता रंजन को हराने के लिए अपने उम्मीदवार उतारे और राहुल गांधी की सभा में बुलाने पर भी नहीं गए. आरएसएस से गुप्त सांठगांठ की वजह से दरभंगा से अली अशरफ फातमी को टिकट न देकर भाजपा को वाकओवर दिया और साथ ही फातमी और डॉ. शकील अहमद को अपमानित किया. बेगूसराय में गिरिराज सिंह से भी इस अहंकारी नेता ने डील की है, तभी तनवीर हसन को कन्हैया के खिलाफ खड़ा किया. एक ओर पाटलिपुत्र में बहन के लिए माले से समझौता किया और सीवान में जब हिना शहाब के खिलाफ माले ने उम्मीदवार उतारा, तब कुछ नहीं बोले. पप्पू यादव ने आरोप लगते हुए कहा कि शिवहर, मधुबनी, मुजफ्फरपुर में तेजस्वी ने भाजपा को वाकओवर दिया. सांसद ने कहा कि यह दर्शाता है कि किसने महागठबंधन के पीठ में छुरा घोंपा.
 
कन्हैया और अरूण को पप्पू यादव का समर्थन
 
पप्पू यादव ने कहा कि जन अधिकार पार्टी (लो) के कार्यकर्ता बेगूसराय में कन्हैया कुमार, मधुबनी में डॉ. शकील अहमद और जहानाबाद में अरुण कुमार को मजबूती से समर्थन देंगे. 26 और 27 अप्रैल को पप्पू यादव बेगूसराय में रहेंगे. 
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus