17 जुलाई 2019, बुधवार | समय 12:54:17 Hrs
Republic Hindi Logo

सुरजेवाला यदि जींद जीते तो हरियाणा भी जीत लेंगे

By Republichindi desk | Publish Date: 1/11/2019 8:36:24 AM
सुरजेवाला यदि जींद जीते तो हरियाणा भी जीत लेंगे

न्यूज़ डेस्क. कांग्रेस ने जाटलैंड जींद में मास्टर स्ट्रोक खेल दिया है. कैथल से विधायक व एआईसीसी मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला को ही चुनावी दंगल में उतार कर. 9 जनवरी की देर रात एआईसीसी महासचिव मुकुल वासनिक ने इसकी घोषणा की. दरअसल बड़े ही नाटकीय घटनाक्रम में रणदीप सुरजेवाला को प्रत्याशी बनाया गया.

नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि से एक दिन पहले रात करीब दस बजे तक कलायत के निर्दलीय विधायक जयप्रकाश के बेटे विकास का टिकट हर कांग्रेस नेता पक्का मानकर चल रहा था. कांग्रेस में टिकट के लिए लंबी माथामच्ची व पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में तीन दौर की बैठकें हुईं, एक बार सुबह और दो बार शाम को. वेणुगोपाल के साथ पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा, प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर, सीएलपी नेता किरण चौधरी, राज्य सभा सांसद कुमारी शैलजा, एआईसीसी मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला और पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव भी बैठकों में शामिल हुए. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी एक ही नाम का पैनल भेजा गया. मगर, राहुल गांधी सशक्त उम्मीदवार ही मैदान में उतारने पर अड़ गए. जिससे न तो पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा की चली और न ही कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर की.

यह भी देखें-

बहरहाल, जींद उपचुनाव अब सीधे सुरजेवाला बनाम सरकार हो गया है. चूंकि, सुरजेवाला की गिनती जहां बड़े कांग्रेस नेता के तौर पर होती है, वहीं उन्हें राहुल गांधी का बेहद करीबी भी माना जाता है. ऐसे में रणदीप सुरजेवाला को लेकिन हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 से पहले इस अग्निपरीक्षा से गुजरना होगा.

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus