23 जुलाई 2019, मंगलवार | समय 13:07:07 Hrs
Republic Hindi Logo

राजधानी एक्सप्रेस में फूड प्वाइजनिंग के शिकार हुए 56 यात्री

By Republichindi desk | Publish Date: 4/8/2019 9:08:56 AM
राजधानी एक्सप्रेस में फूड प्वाइजनिंग के शिकार हुए 56 यात्री
न्यूज़ डेस्क: नई दिल्ली-भुवनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस में विषाक्त भोजन खाकर 56 यात्री बीमार पड़ गए. यात्रियों के चलती ट्रेन में बीमार पड़ने की सूचना मिलने के बाद रेल महकमे में अफरातफरी मच गई.
 
स्टेशनों पर हुआ यात्रियों का इलाज
 
राजधानी एक्सप्रेस में यात्रियों के फूड प्वाइजनिंग के कारण उल्टी-दस्त से उनकी हालत खराब हो गई. कोडरमा से लेकर गोमो, बोकारो, मुरी, टाटानगर सभी स्टेशनों पर यात्रियों का इलाज किया गया. कई यात्रियों ने हंगामा भी किया. इस दौरान यात्रियों के उग्र तेवर और हंगामे से पैंट्रीकार के कर्मचारी व मैनेजर सहमे रहे. आरपीएफ, जीआरपी व रेलवे के अधिकारियों ने नाराज यात्रियों को आश्वस्त किया है कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई होगी, तब लोग शांत हुए. कोच संख्या बी 1, 3, 4, 8 व 9 के बीमार यात्रियों ने बताया कि उन्होंने रात में चिकन चावल खाया था.

खराब चिकेन से बीमार पड़े यात्री
 
प्रारंभिक जांच में यह लग रहा है कि चिकन दूषित था. रेलवे की जांच टीम ने खाने के नमूने जब्त किए हैं. मामले की जांच शुरू हो गई है. जानकारी के अनुसार खाना दिल्ली के बेस कैंप से चढ़ाया गया था. आइआरसीटीसी ने आरके होटलियर्स प्राइवेट लिमिटेड नामक एक एजेंसी को राजधानी एक्सप्रेस की पैंट्री कार में भोजन सप्लाई करने का निर्देश दिया था. यह एजेंसी दिल्ली के बेस किचन में बने भोजन की सप्लाई राजधानी एक्सप्रेस में करती है. ट्रेन में 900 यात्रियों का भोजन लिया गया था. 600 मांसाहारी भोजन में 400 लोगों को चिकन परोसा गया था. खाना खाने के बाद यात्रियों ने गया स्टेशन के आसपास तबीयत बिगड़ने की शिकायत की. धीरे-धीरे ऐसे यात्रियों की संख्या बढ़ने लगी. एक के बाद एक आठ लोगों ने रेल मंत्रालय में ट्वीट कर मामले की जानकारी दी तो हड़कंप मच गया. डाक्टरों की टीम को ट्रेन में भेजा गया. आरपीएफ का भी एक दल ट्रेन में रवाना हुआ. चलती ट्रेन में ही यात्रियों का उपचार किया गया.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus