23 जुलाई 2019, मंगलवार | समय 12:52:23 Hrs
Republic Hindi Logo

मोकामा टाल इलाके के क्रिटिकल और वल्नरेबल बूथों की हो रही पहचान

By Republichindi desk | Publish Date: 3/19/2019 9:33:13 AM
मोकामा टाल इलाके के क्रिटिकल और वल्नरेबल बूथों की हो रही पहचान
पटना: मोकामा विधानसभा के टाल इलाके के बूथों का सहायक पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने भौतिक सत्यापन किया है. मोकामा विधानसभा के घोसवरी और पंडारक प्रखंड के टाल इलाके के बूथों का भौतिक सत्यापन कर उन्होंने वल्नरेबल और क्रिटिकल बूथों की समीक्षा की है. एएसपी ने हालांकि इसकी औपचारिक जानकारी मीडिया को नहीं दी है लेकिन माना जा रहा है कि गड़बड़ी की आशंका वाले बूथों की पहचान की जा रही है.
 
चुनाव आयोग के निर्देशों पर सत्यापन
 
चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुसार उन बूथों की पहचान की जा रही है जहां पहले गड़बड़ियां हुई थी या हिंसा की घटनाएं हुई थी. जिन बूथों पर गड़बड़ी या हिंसात्मक घटनाएं हुई थी, उन बूथों की पहचान की जा रही है ताकि वहां सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ की जा सके. इसके अलावा उन मतदान केंद्रों की भी पहचान की गई है, जहां वोट डालने आने वाले कमजोर मतदाताओं को अपराधियों, दबंगों और बाहुबलियों द्वारा किसी न किसी तरीके से प्रभावित किया जाता रहा है.
 
आम लोगों से ली गई जानकारी
 
घोसवरी और पंडारक टाल इलाके के तीन दर्जन से अधिक बूथों का भौतिक सत्यापन एएसपी द्वारा किया गया। इस दौरान आम लोगों से भी जानकारियां ली गई. कुछ जगहों पर मतदाताओं द्वारा पूर्व के चुनावों में स्थानीय बदमाशों और प्रभावशाली लोगों द्वारा धमकाने और प्रभावित करने की शिकायतें भी की गई हैं. टाल इलाके के सभी बूथों को संवेदनशील और अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है. इसके अलावा वल्नरेबल और क्रिटिकल बूथों की समीक्षा की गई. इस बाबत पूछे जाने पर सहायक पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का अनुपालन किया जा रहा है तथा पूरी रिपोर्ट वरीय पदाधिकारियों को भेजी जाएगी.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus