17 जुलाई 2019, बुधवार | समय 12:15:58 Hrs
Republic Hindi Logo

बेटी की बेरहमी से पिटाई कर वीडियो किया था वायरल, नशे में हुआ गिरफ्तार

By Republichindi desk | Publish Date: 3/27/2019 10:05:05 AM
बेटी की बेरहमी से पिटाई कर वीडियो किया था वायरल, नशे में हुआ गिरफ्तार
पटना: शराब के नशे में चूर होकर पांच साल की बेटी की बेरहम पिटाई करने वाले हैवान पिता को पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. पटना पुलिस को उसकी मुकम्मल कार्रवाई तक पहुंचाने में बजरंग दल की भी महती भूमिका रही. पटना के मीडिया कर्मियों ने भी इस मामले में काफी अच्छी पहल की और एक मासूम बच्ची को पीटने वाला दरिंदा बाप गिरफ्तार कर लिया गया.
यह भी देखें-

छोड़ चुकी थी पत्नी, बेटी पर निकालता था भड़ास
 
दरअसल पटना के कंकड़बाग का रहने वाला पूर्व लेक्चरर शराब के नशे में चूर होकर रोज अपनी बेटी की पिटाई करता था. मासूम बेटी की पिटाई करने वाला शख्स कृष्णा मुक्तिबोध है. उसकी पत्नी नैना कुमारी ने सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो पोस्ट किया. फेसबुक पर वीडियो के पोस्ट होते ही लोग उसे शेयर करने लगे. बजरंग दल वालों ने इसे हाथों हाथ लिया. पटना के मीडिया कर्मियों तक भी इस मैसेज की जानकारी मिली. क्राइम रिपोर्टर प्रशांत कुमार, शशि सागर, कन्हैया कुमार, जैसे पत्रकारों ने पटना एसएसपी से मामले से अवगत कराया. एसएसपी के निर्देश पर कंकड़बाग थाना ने जनता फ्लैट में छापामारी कर मासूम बच्ची को पीटने वाले पिता को गिरफ्तार कर लिया. हैवान पिता कृष्णा मुक्तिबोध शराब के नशे में चूर था. बच्ची से पुलिस ने पूछताछ भी की. कंकड़बाग थानाध्यक्ष ने बच्ची से पिता द्वारा पीटे जाने की बात पूछी तो बच्ची ने पिटाई से इंकार कर दिया है. माना जा रहा है कि खौफ में होने के कारण मासूम बच्ची पिता के खिलाफ कुछ बोल नहीं रही है.
 
पति के करतूतों से तंग आकर भाग गई थी नैना
 
नैना कुमारी दरअसल असम में रहती है. मूल रूप से भागलपुर की रहने वाली नैना का आरोप है कि उसका पति पहले मगध विश्वविद्यालय में लेक्चरर था. शराब के कारण उसकी नौकरी छूट गई. पत्नी और बच्चों को वह बेतहाशा पीटा करता था. आजिज़ आकर नैना अपनी दो बेटियों को साथ लेकर ससुराल से निकल गई. एक बच्ची वहीं रह गई थी. उसी बच्ची जया सिंह की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ था. बेरहम बाप ना सिर्फ अपनी बेटी को जानवरों की तरह पीटता हुआ दिख रहा है बल्कि ऐसी गंदी गालियां अपनी मासूम बच्ची को दे रहा है जिसकी पढ़े लिखे तो क्या किसी समाज में कल्पना नहीं की जा सकती है.
 
बजरंग दल के लोग भी हुए थे सक्रिय
 
दरअसल नैना कुमारी का फेसबुक पोस्ट वायरल हुआ तो फेसबुक पर सक्रिय कई संगठनों ने सक्रियता दिखानी शुरू की. बजरंग दल के लोग भी बच्ची की बेरहम पिटाई करने वालों की तलाश शुरू करने लगे. तीन घंटे तक बजरंग दल वाले उस बच्ची की तलाश कर रहे थे. पुलिस जब वहां पहुंची तो बजरंग दल के लोग भी वहां साथ में थे. बजरंग दल कार्यकर्ताओं को कोई लाख कुछ कह ले लेकिन इस घटना में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जो पहल की है, वह वाकई काबिले तारीफ है. बजरंग दल के दीपक सिंह और उनके साथी लगभग चार घंटे तक बच्ची को खोजते रहे और उसके बाद बच्ची को पुलिस तक पहुंचाने में भी इनकी महती भूमिका रही थी.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus