23 सितम्बर 2019, सोमवार | समय 10:44:11 Hrs
Republic Hindi Logo

लाइसेंसी हथियारों के साथ छेड़छाड़ पड़ा महंगा, रद्द हो गए लाइसेंस

By Republichindi desk | Publish Date: 4/6/2019 10:12:45 AM
लाइसेंसी हथियारों के साथ छेड़छाड़ पड़ा महंगा, रद्द हो गए लाइसेंस

पटना: मोकामा के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह के दो समर्थकों के लाइसेंसी हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं. एक हथियार के साथ छेड़छाड़ की गई थी जबकि दूसरे व्यक्ति के हथियार का लाइसेंस रिन्यूवल नहीं कराया गया था.

भूषण सिंह और चुहवा का लाइसेंस रद्द

पटना जिलाधिकारी कुमार रवि ने विधायक अनंत सिंह के खासमखास भूषण सिंह और रजनीश उर्फ चुहवा के हथियारों के लाइसेंस को रद्द कर दिया है. भूषण सिंह पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. वहीं हथियार के साथ भी छेड़छाड़ की गई थी. एनपी बोर राइफल को सेमी ऑटोमेटिक का रूप दिया गया था. वहीं रजनीश उर्फ चुहवा के हथियार को भी डीएम द्वारा रद्द किया गया है. भूषण सिंह के खिलाफ बेढ़ना के एक युवक ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी. इसी के बाद भूषण सिंह और चुहवा के घर पुलिस की छापामारी हुई थी. भूषण सिंह के घर से एक सेमी ऑटोमेटिक राइफल और सात लाख नगद रुपए भी बरामद हुए थे. विधायक अनंत सिंह के खासम खास भूषण सिंह पर कई आपराधिक मामले दर्ज थे. कुछ दिनों पहले भूषण सिंह को शराब के नशे में गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भी भेजा था.

भूषण के हथियार के साथ हुई थी छेड़छाड़, चुहवा के हथियार का लाइसेंस नहीं हुआ था रिन्यूवल

पुलिस की छापामारी के दौरान भूषण सिंह के घर से जो हथियार बरामद हुआ था, वह गैर प्रतिबंधित बोर का लाइसेंस था लेकिन उस लाइसेंस के  एवज में सेमी ऑटोमेटिक राइफल उसके द्वारा रखा जा रहा था. बताया जाता है कि एनपी बोर का लाइसेंस यानी गैर प्रतिबंधित बोर का लाइसेंस होने के बावजूद प्रतिबंधित बोर का हथियार भूषण सिंह के द्वारा रखा गया था. अमेरिकन सेमी ऑटोमेटिक राइफल बिहार में प्रतिबंधित है. इसके बावजूद वह हथियार भूषण सिंह के पास था. नदवां निवासी रजनीश उर्फ चुहवा का हथियार का लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं हुआ था. उसके हथियार लाइसेंस की अवधि समाप्त हो चुकी थी. इसके बावजूद वह अपने घर में हथियार रखे हुए था. सहायक पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह के नेतृत्व में कार्रवाई के दौरान ही दोनों हथियारों को जब्त किया गया था.

11 जनवरी को हुई थी छापामारी

बीते 11 जनवरी को विधायक अनंत सिंह के सहयोगी भूषण सिंह और चुहवा के घर छापामारी हुई थी. भूषण सिंह के घर से सेमी ऑटोमेटिक राइफल के अलावा सात लाख रूपए नगद बरामद किए गए थे. वहीं चुहवा के घर से थ्री फिफ़्टीन राइफल बरामद किया गया था. थ्री फिफ़्टीन राइफल के लाइसेंस की अवधि समाप्त हो गई थी और उसका नवीकरण नहीं हुआ था.

अनंत ने लगाया था प्रताड़ित करने का आरोप, पुलिस बोली प्रोफेशनल तरीके से हो रहा काम

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले विधायक अनंत सिंह ने प्रशासन पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाए थे. अनंत सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोप लगाया था कि उनके समर्थकों को पुलिस बेवजह प्रताड़ित कर रही है. विधायक ने सत्ताधारी दल के दबाव में काम करने का आरोप पुलिस पर लगाया था. वहीं, पुलिस पदाधिकारियों का तर्क है कि एक भी निर्दोष व्यक्ति की गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस का कहना है कि जिस भी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई हुई है, उसके खिलाफ या तो मामले दर्ज हैं, उनका अपराधिक इतिहास रहा है या किसी न किसी रूप में उनके खिलाफ कोई शिकायत दर्ज हुई थी. पुलिस का तर्क है शिकायतें मिलने के बाद कार्रवाई हर हाल में होगी.

 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus