17 अक्तूबर 2019, गुरुवार | समय 22:44:20 Hrs
Republic Hindi Logo

बिहार: टीपीसी और भाकपा माओवादी के नक्सली आमने सामने, एक मारा गया

By Republichindi desk | Publish Date: 5/5/2019 9:29:30 AM
बिहार: टीपीसी और भाकपा माओवादी के नक्सली आमने सामने, एक मारा गया

पटना: प्रतिबंधित नक्सली संगठनों के बीच आपसी वर्चस्व की लड़ाई में एक नक्सली के मौत की खबर आई है. पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है. भाकपा माओवादी और टीपीसी के नक्सली आमने-सामने हो गए थे और दोनों के बीच जबरदस्त क्रॉस फायरिंग शुरू हो गई.

गया के जंगलों में हुई भिड़ंत

प्राप्त सूचना के अनुसार भाकपा माओवादी और टीपीसी माओवादियों के बीच भिड़ंत गया इलाके में हुई है. गया के रोशनगंज क्षेत्र की यह घटना है. बिहार झारखंड सीमा पर स्थित गया जिले के रोशनगंज थाना क्षेत्र के अम्बाखार जंगलों में दोनों प्रतिबंधित नक्सली संगठनों के सदस्य आमने-सामने हो गए. इस फायरिंग में टीपीसी के हार्डकोर नक्सली बसंत भोक्ता उर्फ रुस्तम की मौत हो गई है. अम्बाखार जंगल के पास भवानीडीह गांव में टीपीसी का दस्ता रुका हुआ था. इसी दौरान भाकपा माओवादी के सदस्य वहां आ पहुंचे और दोनों के बीच फायरिंग शुरू हो गई. अचानक हुई फायरिंग में टीपीसी के एक सदस्य की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. सुबह होने पर पुलिस मौके पर पहुंची तथा टीपीसी नक्सली के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.

पहले भी हो चुकी है भिड़ंत

टीपीसी और भाकपा माओवादी के बीच वर्चस्व की जंग काफी पुरानी है. पहले भी कई बार भिड़ंत हो चुकी है. झारखंड में टीपीसी और भाकपा माओवादी हमेशा आपस में टकराते रहते हैं. भाकपा माओवादी का आरोप रहा है कि टीपीसी को पुलिस का संरक्षण हासिल होता है. हालांकि पुलिस इन आरोपों से सदा इंकार करती रही है. पुलिस की कार्रवाई में कई बार टीपीसी के नक्सली भी या तो मारे गए हैं या गिरफ्तार हुए हैं.

 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus