21 अगस्त 2019, बुधवार | समय 13:51:27 Hrs
Republic Hindi Logo

इफ्तार में दिखे नीतीश, रामविलास तो गिरिराज सिंह ने कसा तंज

By लोकनाथ तिवारी | Publish Date: 6/4/2019 2:01:33 PM
इफ्तार में दिखे नीतीश, रामविलास तो गिरिराज सिंह ने कसा तंज

रिपब्लिक डेस्क: बिहार में बीजेपी और जनता दल यूनाइटेड के बीच तनातनी की खबरों के बीच इफ्तार में धुर सियासी विरोधियों के जमावड़े से राजनीतिक हलके में चर्चा का बाजार गरम है. इसी बीच केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इफ्तार को लेकर इन नेताओं पर कड़ा तंज कसा है. जनता दल यूनाइटेड सुप्रीमो व मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार की हिंदुस्ताानी अवाम मोर्चा सुप्रीमो जीतनराम मांझी से मुलाकात हुई. जीतनराम मांझी द्वारा आयोजित इस इफ्तार में राष्ट्रीय जनता दल से राबड़ी देवी सहित विपक्षी महागठबंधन के शीर्ष नेता शामिल हुए.

बिहार के बेगूसराय से सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को मोदी कैबिनेट में पशुपालन, डेयरी और मतस्य मंत्रालय का जिम्मा मिला है. गिरिराज सिंह लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के साथ-साथ पीएम मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल हुए. चुनाव के दौरान कई बार उनके द्वारा दिए गए बयानों पर सवाल भी उठे, हालांकि अब फिर से अटैक के मूड में आ गए हैं.

गिरिराज सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कुछ तस्वीरों के साथ एक ट्वीट किया, जिसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बीजेपी नेता सुशील मोदी, जीतनराम मांझी, रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान एक साथ इफ्तार पार्टी में दिखाई दे रहे हैं.दो दिनों में यह दूसरा मौका था, जब नीतीश कुमार व जीतनराम मांझी की मुलाकात हुई. इससे किसी सियासी खिचड़ी के पकने की आशंका को बल मिला है. राबड़ी देवी ने तो कहा भी है कि नीतीश कुमार की महागठबंधन में वापसी पर उनको कोई आपत्ति नहीं है.

गिरिराज सिंह ने इन तस्वीरों को शेयर करते हुए तंज कसा है. उन्होंने लिखा, 'कितनी खूबसूरत तस्वीर होती जब इतनी ही चाहत से नवरात्रि पर फलाहार का आयोजन करते और सुंदर सुदंर फोटो आते? अपने कर्म-धर्म में हम पिछड़ क्यों जाते हैं और दिखावा में आगे रहते है?' बता दें, बीजेपी नेता व सांसद गिरिराज सिंह ने बिहार की एनडीए गठबंधन में शामिल होने वाले प्रमुख राजनैतिक पार्टियों के नेताओं पर हमला बोला है.

अपनी बेबाकी अंदाज के लिए पहचाने जाने वाले गिरिराज सिंह ने अपनी ही गठबंधन पार्टी के प्रमुख नेताओं पर सवाल उठाया है. देखना होगा कि उनके इस ट्वीट पर किन राजनेताओं की नजर पड़ती हैं और उस पर क्या प्रतिक्रिया मिल पाती है. मालूम हो कि 2008 से 2010 के बीच वह नीतीश कुमार की सरकार में मंत्री रहे. गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में जदयू शामिल नहीं हुई है. नीतीश कुमार कैबिनेट में जदयू को एक ओहदा दिये जाने से नाराज हैं.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus