19 नवम्बर 2019, मंगलवार | समय 05:12:24 Hrs
Republic Hindi Logo

प्रदूषण नियंत्रण को लेकर सीएम नीतीश सख्त, 15 साल पुराने व्यावसायिक वाहन पर रोक

By Republichindi desk | Publish Date: 11/5/2019 11:49:37 AM
प्रदूषण नियंत्रण को लेकर सीएम नीतीश सख्त, 15 साल पुराने व्यावसायिक वाहन पर रोक

रिपब्लिक डेस्कः वायु प्रदूषण से दिल्ली ही नहीं बल्कि बिहार का पटना शहर भी ग्रसित है. ऐसे में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर राज्य के सीएम नीतीश कुमार ने एक अहम फैसला लिया है. बिहार राज्य सरकार ने 15 साल से अधिक पुराने सरकारी व व्यावसायिक वाहनों के परिचालन पर रोक लगा दी है. साथ ही निजी वाहनों को प्रदूषण जांच कराने का निर्देश दिया है.

बता दें कि बिहार सरकार ने प्रदूषण पर रोक के लिए और भी कई बड़े फैसले लिए हैं. ये सभी फैसले आगामी सात नवंबर से लागू हो जाएंगे. नीतीश सरकार ने पटना और आसपास के इलाके में अब 15 वर्ष से अधिक पुराने व्यावसायिक वाहन पर रोक लगाई है. साथ ही 15 वर्ष से अधिक पुराने निजी वाहन को फिर से प्रदूषण से संबंधित फिटनेस प्रमाण पत्र लेना होगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को पर्यावरण संबंधी भीषण समस्या पर उच्चस्तरीय बैठक में ये निर्णय लिए गए.

उक्त मामले में राज्यर के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने मुख्यमंत्री की बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी दी. उन्होंपने बताया कि बड़ी संख्या में किरासन मिश्रित डीजल से वाहन चल रहे हैं. पटना में प्रदूषण की ये भी बड़ी वजह है. विशेष रूप से ऑटो रिक्शा और कुछ सिटी बसों में ऐसा हो रहा है. इसके लिए सख्ती से जांच अभियान चलाया जाएगा. मुख्यमंत्री ने सूबे के सभी ईंट-भट्ठों की जांच कर यह देखने का भी आदेश दिया कि वे प्रदूषण नियंत्रण के लिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर रहे है या नहीं.

उधर, सरकार के इस फैसले पर व्यारवसायिक वाहनों के ऑपरेटर खुश नहीं दिख रहे. बिहार ट्रक एसोसिएशन के अध्यसक्ष भानू प्रताप ने कहा कि इतने बड़े फैसले के पहले सरकार को समय देना चाहिए था. उन्हों्ने इसे इकतरफा फैसला बताया.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus