22 अप्रैल 2019, सोमवार | समय 06:30:25 Hrs
Republic Hindi Logo

मदन मोहन झा बने बिहार कांग्रेस अध्यक्ष, श्यामसुंदर सिंह धीरज और अखिलेश को बड़ी जिम्मेवारी

By Republichindi desk | Publish Date: 9/18/2018 2:38:00 PM
मदन मोहन झा बने बिहार कांग्रेस अध्यक्ष, श्यामसुंदर सिंह धीरज और अखिलेश को बड़ी जिम्मेवारी

पटना: बिहार में कांग्रेस पार्टी ने सवर्णों पर बड़ा दांव चला है. भारतीय जनता पार्टी से सवर्णों की नाराजगी को भुनाने में लगी कांग्रेस ने बड़ा फैसला लेते हुए पूर्व मंत्री मदन मोहन झा को बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त कर दिया है. मदन मोहन झा के अलावा भूमिहार समाज से आने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री अखिलेश सिंह और मोकामा के रहने वाले पूर्व मंत्री श्याम सुंदर सिंह धीरज को भी बड़ी जिम्मेवारी दी गई है.


अध्यक्ष के साथ बने चार कार्यकारी अध्यक्ष
 
महागठबंधन की सरकार में भू राजस्व मंत्री रहे मदन मोहन झा को बिहार कांग्रेस की कमान सौंप दी गई है. अब तक कौकब कादरी कार्यकारी अध्यक्ष हुआ करते थे. मदन मोहन झा को स्थाई अध्यक्ष बनाया गया है. इनके अलावा चार कार्यकारी अध्यक्षों की तैनाती भी की गई है. कार्यकारी अध्यक्षों में अशोक कुमार, कौकब कादरी, समीर कुमार सिंह और श्याम सुंदर सिंह धीरज शामिल हैं.
 
श्याम सुंदर सिंह धीरज की वापसी
 
श्याम सुंदर सिंह धीरज पूर्व मंत्री रह चुके हैं. धीरज संजय गांधी और राजीव गांधी दोनों के प्रिय रह चुके हैं. एक समय में कद्दावर नेता माने जाने वाले धीरज बीच में नेपथ्य में चले गए थे. कई दलों की सैर करने के बाद कांग्रेस में एक बार फिर जोर शोर से सक्रिय हुए थे. धीरज की सक्रियता को देखते हुए माना जा रहा था कि उन्हें कोई बड़ा दायित्व जरूर मिलेगा. उनके समर्थक और विरोधी दोनों मानते हैं यदि धीरज कांग्रेस के बुरे दौर में दल छोड़कर नहीं गए होते तो आज इससे भी बड़ी भूमिका में भी जरूर रहते. श्याम सुंदर सिंह धीरज के अलावा अखिलेश सिंह को भी पार्टी ने बड़ी जवाबदेही दी है. इनको चुनाव अभियान समिति का अध्यक्ष बनाया गया है. आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर चुनाव अभियान समिति की भी बड़ी भूमिका होगी. अखिलेश सिंह को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार का बेहद करीबी भी माना जाता है.
 
पीसीसी में भी सवर्णों की संख्या ज्यादा
 
कांग्रेस वर्किंग कमेटी का भी गठन कर दिया गया है. कांग्रेस कमेटी में भी सवर्णों की अच्छी खासी संख्या है. पार्टी अपने पुराने आधार सवर्ण, मुस्लिम और दलित समीकरण पर लौटते हुए दिख रही है. कांग्रेस कमेटी में अमिता भूषण, प्रेमचंद्र मिश्रा, कृपानाथ पाठक, भावना झा, आनंद शंकर, मोतीलाल शर्मा, अमित कुमार जैसे लोगों को जगह दी गई है. इनके अलावा शकील खान, जावेद आजाद, शकील उर रहमान भी शामिल है. अन्य चेहरों की बात करें तो पूनम पासवान, पूर्णमासी राम, कैलाश पाल भी कांग्रेस कार्यसमिति में शामिल किए गए हैं. कांग्रेस कार्यसमिति में 23 लोगों को जगह दी गई है.
 
19 सदस्यीय सलाहकार समिति का गठन
 
कांग्रेस वर्किंग कमेटी के अलावा 19 सदस्य सलाहकार समिति का गठन किया गया है. इनमें अनिल शर्मा, शकील अहमद, सदानंद सिंह, मीरा कुमार, निखिल कुमार, चंदन बागची, कुमारी ज्योति, अब्दुल जलील मस्तान, डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह, मौलाना असरारुल हक, रामदेव राय, विश्व मोहन शर्मा सरीखे कद्दावर नेता शामिल किए गए हैं.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus