20 जून 2019, गुरुवार | समय 08:29:00 Hrs
Republic Hindi Logo

प्रशांत किशोर पर अपनों का करारा वार, नीरज की इशारों में चेतावनी

By Republichindi desk | Publish Date: 3/8/2019 12:10:45 PM
प्रशांत किशोर पर अपनों का करारा वार, नीरज की इशारों में चेतावनी

पटना: जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर अपने बयानों के बाद चौतरफा घिरे हुए हैं. पार्टी के नेता उनको निशाने पर ले रहे हैं. जदयू प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने इशारों इशारों में ही प्रशांत किशोर को काफी कुछ सुना दिया है. 

यह भी देखें-

महागठबंधन से अलग होने का फैसला उचित

जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि महागठबंधन से अलग होने का फैसला पूरी तरह उचित था और बिहार के व्यापक हित में इस फैसले को लिया गया था. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर आज जिस बात को कह रहे हैं, उसकी कोई उपयोगिता और सार्थकता नहीं है. नीरज ने कहा कि 2015 का विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चेहरे, सात निश्चय की बुनियाद और शराबबंदी के वादे पर लड़ा गया था. बक़ौल जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार सीएम नीतीश कुमार ने इन कार्यक्रमों को लेकर महागठबंधन बनाया था और बिहार की जनता ने जो जनादेश दिया था सरकार आज भी अपने उन कार्यक्रमों पर कायम है. नीरज कुमार ने इशारों में प्रशांत किशोर पर जमकर निशाना साधा और कहा कि आज उनको ज्ञान का एहसास हो रहा है और उस वक्त कहां थे जब पार्टी की राज्य और केंद्रीय इकाई ने यह फैसला लिया था. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर के बयान का कोई मतलब नहीं है और बिहार की जनता के व्यापक हित में ही यह फैसला लिया गया है.

प्रशांत किशोर का बयान हुआ है वायरल

जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर मुजफ्फरपुर में दिए गए एक बयान के बाद चर्चा में हैं. उन्होंने अपनी ही शेख़ी बघारते हुए कहा था कि जब वह मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री बना सकते हैं तो मुखिया और जिला पार्षद एमएलए भी बना सकते हैं. इसी बयान के बाद पार्टी में हुए घिर चुके हैं. विपक्ष ने उनको निशाने पर लिया ही है, साथ ही पार्टी के लोग भी उनको निशाने पर ले रहे हैं. जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार थोड़े ज्यादा ही मुखर है और उन्होंने प्रशांत किशोर को सीधे निशाने पर ले लिया है. प्रशांत किशोर का एक और वीडियो वायरल हुआ है. एक समाचार चैनल को दिए गए इंटरव्यू में महागठबंधन तोड़ कर एनडीए में जाने के नीतीश कुमार के फैसले पर सवाल उठाया था. नीरज कुमार इसी बयान के बाद बमके हुए हैं. पार्टी के दूसरे नेताओं में भी इस बयान को लेकर नाराजगी है. माना जा रहा है कि प्रशांत किशोर पार्टी और नेतृत्व को बाईपास कर अपनी बात मनवाने की कोशिश में लगे हुए उसे पार्टी के अंदर नाराजगी बढ़ती जा रही है.

 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus