20 जून 2018, बुधवार | समय 08:58:59 Hrs
Republic Hindi Logo
Advertisement

पटना: बिहार में सेमी हाईस्पीड रेल नेटवर्क में जापान ने दिलचस्पी दिखाई है. बिहार के एक रेलट्रैक को हाइस्पीड रेल नेटवर्क से जोड़ने में जापान द्वारा रूचि दिखाए जाने के बाद बिहार में हाइस्पीड रेल ट्रैक को लेकर चर्चा शुरू हो गई है. जापान के राजदूत केंजी हीरामत्सू की बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाक़ात के दौरान इसपर आंशिक चर्चा हुई.

 
बिहार दौरे पर हैं जापान राजदूत
 
जापानी राजदूत केन्जी हीरामत्सू इनदिनों बिहार के दौरे पर हैं. जापान के राजदूत केन्जी हीरामत्सू ने पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. मुलाकात के दौरान विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई. बिहार के बोधगया, पटना और राजगीर को कनेक्ट करने के लिए सेमी हाईस्पीड रेलवे के निर्माण में जापानी विशेषज्ञों को आमंत्रित करने के संबंध में विमर्श किया गया. नालंदा और गया का बौद्ध धर्म को लेकर खासा महत्व है और दोनों स्थानों की महत्ता को देखते हुए जापान ने इसमें रूचि दिखाई है.
 
इन विषयों पर हुई बात
 
सीएम की जापान राजदूत से मुलाक़ात के दौरान जापानी भाषा संस्थान की स्थापना के संबंध में विचार-विमर्श किया गया तथा यह तय हुआ कि इसके लिए राज्य सरकार हरसंभव सहायता उपलब्ध कराएगी. बिहार में जापानी इंडस्ट्रीयल टाउनशिप के गठन के संबंध में भी बात हुई. भूकम्प, फोरकास्टिंग, मैनेजमेंट के विशेषज्ञों का लाभ लेने के लिए राज्य के प्रतिनिधिमंडल को जापान भेजने के संबंध में भी चर्चा हुई.
 
सीएम ने कराए बोधिवृक्ष के दर्शन
 
मुख्यमंत्री ने जापानी राजदूत को मुख्यमंत्री आवास परिसर स्थित बोधिवृक्ष के दर्शन कराये एवं उससे संबंधित विशेषताओं के बारे में भी जानकारी दी. सीएम आवास में बोधगया से बोधिवृक्ष की एक टहनी लाकर लगाई गई थी. मुख्यमंत्री ने जापान के राजदूत केन्जी हीरामत्सू को अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया. जापानी राजदूत के मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान फिक्की पार्लियामेंट्री के चेयरमैन भी उपस्थित थे. इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, प्रधान सचिव उद्योग डॉ एस सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार, निवेश आयुक्त रविकान्त भी उपस्थित थे.
 

Copyright © 2018 Shailputri Media Private Limited. All Rights Reserved.

Designed by: 4C Plus